खोजे गए परिणाम

सहेजे गए शब्द

"मुँह पर न थूकना" शब्द से संबंधित परिणाम

मुँह पर न थूकना

मुँह पर न थूकना

बहुत नफ़रत करना, निहायत हक़ीर और नाक़ाबिल इअलतफ़ात समझना

मुँह पर थूकना

मुँह पर थूकना

बेइज़्ज़ती करना, ज़लील-ओ-हक़ीर करना, थिड़ी थिड़ी करना, नफ़रत के साथ तर्क-ए-तअल्लुक़ करना

किसी चीज़ पर न थूकना

उसे ख़ातिर में ना लाना, किसी चीज़ से निहायत इकराह और नफ़रत ज़ाहिर करना

मुँह पे न थूकना

बहुत नफ़रत करना, निहायत हक़ीर और नाक़ाबिल इअलतफ़ात समझना

जनम में न थूकना

रुख़ भी ना करना,ज़रा सी तवज्जा भी ना करना

मुँह में थूकना

मुँह में थूकना

सख़्त मलामत करना, बुरा-भला कहना, लॉन तान करना, शर्मिंदा करना

जनम में थूकना

۔(हिंदू। ओ) ज़ात बुनियाद पर लानत मलामत करना। नाम धरना। ऐब लगाना। इन को तकों पर क्या कोई जन्म में थूकेगा

मुँह से ख़ून थूकना

ख़ून थूकना, बहुत सदमा या अज़ीयत बर्दाश्त करना

फ़लान में थूकना

रुसवा करना, बुरी तरह ज़लील करना, फ़ुहश गालियां देना

हल्क़ में थूकना

लनात भेजना, बुरा कहना, तहमत लगाना

ख़ून थूकना

किसी भी आघात और विशेष रूप से तपेदिक के कारण रक्त की उल्टी करना, खाँसी में बलग़म की जगह ख़ून आना

मुँह पर न कहना

सामने न कहना, पीठपीछे कहना

मुँह पर न रखना

۱۔ सामने ना कहना, रूबरू ना कहना

गाँड़ में थूकना

(फ़ुहश , बाज़ारी) निहायत ज़लील करना, शर्मिंदा करना

कानों पर जूँ न रेंगना

बे-ख़बर और बे-हिस होना, तवज्जा ना देना, ग़ाफ़िल होना

मुँह पर नाक न होना

प्रतीकात्मक: निर्लज होना, बेहया होना, लज्जा, अहम, सम्मान, ख्याति आदि का ख़्याल ना होना

मुँह पर नूर न होना

चेहरे पर तेज न होना, चेहरे का कुरूप होजाना

लाखों पर बंद न होना

۔۱۔औरत का आवारा होना। बहुत से लोगों के मुक़ाबले में आजिज़ ना होना

सर पर आँखें न होना

बसारत से आरी होना , बेअक़ल होना

कानों पर जूँ तक न रेंगना

बे-ख़बर और बे-हिस होना, तवज्जा ना देना, ग़ाफ़िल होना

मुँह पर नूर न होना

चेहरे की शादाबी और ताज़गी जाती रहना, चेहरा बेरौनक होना

मुँह पर नाक न होना

बेग़ैरत, बेशरम होना, नंग-ओ-नामूस का ख़्याल ना होना, बेइज़्ज़त होना

सारे जहाँ का थूकना

सब लोगों का बुरा भला कहना

तबी'अत एक रंग पर न रहना

एक हाल पर तबीयत का क़ायम ना रहना

दाँतों पर मैल न होना

मुफ़लिस होना, ग़रीब होना, भूखे रहना

कान पर जूँ न रेंगना

कान पर जूं (तक) न फिरना, बहुत बेपर्वा होना, पूरी तरह से बेखबर या अनजान होना

मुँह पर दाना न रखना

बिलकुल न खाना, तनिक भी न खाना, एक दाना तक न खाना

मुँह पर कुछ न कहना

मुँह पर दाना न रखना

बिलकुल ना खाना, ज़रा ना खाना, नाम को ना खाना

मुँह पर कुछ न रखना

۲۔ ज़बान पर ना लाना

कान पर जूँ तक न रेंगना

मुँह पर जूती भी न मारना

किसी तरह भी कोई वास्ता ना रखना

मारे जूतीयों के सर पर एक बाल न रखों

किसी पर अत्यधिक ग़ुस्सा दिखाने के लिए बोलते हैं

चंदिया पर बाल न रहना

रुक : चन्दया पर बाल ना छोड़ना , कुछ भी पास ना होना

चंदिया पर बाल न होना

रुक : चन्दया पर बाल ना छोड़ना , कुछ भी पास ना होना

कंधों पर बोझ न होना

बेफ़िकरी होना, ज़िम्मेदारी ना होना, इतमीनान-ओ-सुकून होना, फ़िक्र-ओ-तरद्दुद से आज़ाद होना

पराए गंडे के भरोसे पर न रहना

दूसरे की सहायता पर भरोसा न करना

काटी उँगली पर न मूतना

ज़रा भी हमदर्दी न करना, अत्यधिक आलसी या बेदर्द हो जाना

मरते हैं मरते पर न राह चलते पर

प्यार और मोहब्बत अपनों से होता है न कि दूसरों या अजनबियों से

मुँह पर सफ़ाई न रहना

कान पर जूँ न सीलना

परवाना करना, ग़ाफ़िल या बे-ख़बर होना

कान पर जूँ न चलना

बिलकुल पर्वा ना करना, यकसर ग़ाफ़िल या बे-ख़बर होना, क़तई तवज्जा ना करना, कोई आवर क़बूल ना करना

कान पर जूँ न फिरना

बिलकुल पर्वा ना करना, यकसर ग़ाफ़िल या बे-ख़बर होना, क़तई तवज्जा ना करना, कोई आवर क़बूल ना करना

मुँह पर सफ़ाई न रहना

मुँह साफ़ ना रहना

मुँह पर ख़ुशामद न करना

लगी-लिपटी ना कहना, रास्त बाज़ और साफ़ गो होना, पासदारी ना करना

जान जाए पर आन न जाए

ख़ानदानी वक़ार ज़िंदगी से ज़्यादा अज़ीज़ होता है, यास वज़ा के लिए हयात जैसी मता अज़ीज़ क़ुर्बान की जा सकती है

पाँव में जूती न सर पर टोपी

लाख जाए पर साख न जाए

दमड़ी चली जाये पर चमड़ी ना जाये, पैसा चला जाये मगर इज़्ज़त बरक़रार रहे, जान जाये आन ना जाये

गिरह का दीजिये पर 'अक़्ल न दीजिये

मश्वरा नहीं देना चाहिए रूबा दे देना चाहिए

हैं पर ख़ुदा काम न डाले

ख़ुदा उन का हाजतमंद ना करे, ज़ाहिर में अच्छे हैं मगर हक़ीक़त में बुरे

आँख पर मैल न होना

त्यौरी पर बल न पड़ना, बिल्कुल नागवार न गुज़रना

लोटा चौकी पर न रखवाऊँ

इस से ज़लील से ज़लील काम भी ना लूं, इज़हार-ए-नफ़रत के लिए कहते हैं

चौकी पर लोटा न रखवाऊँ

कमाल हक़ारत ज़ाहिर करने के मौक़ा पर औरतें बोलती हैं, मामूली और अदना काम भी ना कराऊं

ज़मीन पर जाए न होना

गुंजाइश या क्षमता न होना, काफ़ी न होना, कहीं ठिकाना न होना

पाँव में जूती न सर पर टोपी

किसी के इफ़लास और ग़ुर्बत या इज़तिराब-ओ-परेशानी यानी बदहवासी ज़ाहिर करने के मौक़ा पर कहते हैं

दुश्मन पर भी ये वक़्त न आए

कुत्तों को दूँ पर तुझे न दूँ

किसी के प्रति बहुत घृणा प्रकट करना, अथवा किसी को माँगने पर कोई वस्तु उसे न देकर अन्य निकृष्ट व्यक्ति को दे देना, वस्तु नष्ट की जा सकती है परंतु शत्रु को नहीं दी जा सकती, जिसे कोई वस्तु देने को दिल न करे और वह अड़ जाए तो उस समय इस कहावत का प्रयोग करते हैं

हिन्दी, इंग्लिश और उर्दू में मुँह पर न थूकना के अर्थदेखिए

मुँह पर न थूकना

mu.nh par na thuuknaaمُنْھ پَر نَہ تُھوکْنا

مُنْھ پَر نَہ تُھوکْنا کے اردو معانی

  • ۔(کنایۃً) خفیف توجّہ کرنا۔ نظر حقارت سے دیکھنا۔ کمال بے وقعت سمجھنے سے کنایہ ہے۔ ؎

सूचनार्थ: औपचारिक आरंभ से पूर्व यह रेख़्ता डिक्शनरी का बीटा वर्ज़न है। इस पर अंतिम रूप से काम जारी है। इसमें किसी भी विसंगति के संदर्भ में हमें dictionary@rekhta.org पर सूचित करें। या सुझाव दीजिए

संदर्भग्रंथ सूची: रेख़्ता डिक्शनरी में उपयोग किये गये स्रोतों की सूची देखें .

सुझाव दीजिए (मुँह पर न थूकना)

नाम

ई-मेल

प्रतिक्रिया

मुँह पर न थूकना

चित्र अपलोड कीजिएअधिक जानिए

नाम

ई-मेल

प्रदर्शित नाम

चित्र संलग्न कीजिए

चित्र चुनिए
(format .png, .jpg, .jpeg & max size 4MB and upto 4 images)
बोलिए

Delete 44 saved words?

क्या आप वास्तव में इन प्रविष्टियों को हटा रहे हैं? इन्हें पुन: पूर्ववत् करना संभव नहीं होगा

Want to show word meaning

Do you really want to Show these meaning? This process cannot be undone

Recent Words