खोजे गए परिणाम

सहेजे गए शब्द

"मौसी का घर नहीं है" शब्द से संबंधित परिणाम

मौसी का घर नहीं है

ख़ाला जी का घर नहीं है , आसान काम नहीं है , खेल नहीं है , किसी की तनआसानी और लापरवाई को देख कर कहते हैं

आप का घर कहाँ है

जो शख़्स बेवक़ूफ़ों की सी बातें करता है इस से कहते हैं मतलब ये होता है कि आप बड़े नादान हैं

ये नौकरी है ख़ाला जी का घर नहीं

नौकरी में वक़्त की पाबंदी और हाज़िरी ज़रूरी है (ज़ाबते की पाबंदी ना करने पर कहते हैं), ये नहीं कि जब मर्ज़ी हुई चले गए, गोया कि बेतकल्लुफ़ी का मिलना हो

माँ मरे मौसी जिये

माँ और ख़ाला की मुहब्बत में कोई फ़र्क़ नहीं, माँ मर जाये तो ख़ाला बच्चों की परवरिश करती है

नानी जी का घर नहीं है

रुक : ख़ाला जी का घर नहीं, आसान काम नहीं, हंसी खेल नहीं है

घर-घर 'ईद है

जोरू का मरना घर का ख़राबा है

पत्नी के मरने से घर उजड़ जाता है

नौकरी क्या है ख़ाला जी का घर है

रुक : नौकरी ख़ाला जी का घर नहीं

पराए घर का कूड़ा है

۔ (ओ) बेटी के हक़ में बोलती हैं कि वो दूसरे के घर ब्याही जाएगी

घर-का-घर

पूरा घर, निजी घर, ज़ाती घर, घर का हर सदस्य, पूरा परीवार, घर की सारी सामग्री

है घरनी घर काजत है, नहीं घरनी घर पादत है

बीवी से घर की रौनक होती है बगै़र बीवी के घर उजाड़ होता है

चाम का घर कुत्ता लिए जाता है

कमज़ोर वस्तु जलदी बिगड़ जाती है, जो वस्तु मनुष्य बनाए सशक्त बनाए

काँच का घर

शीशे का मकान, मुराद : बहुत नाज़ुक चीज़, टूटने-फूटने वाला, कमज़ोर, सुकुमार

च्यूँटी का घर

चींटी का छेद और सूराख़

घर-बार का धंदा

घर दोज़ख़ है

घर रहने के काबिल नहीं है। घर मुसीबत की जगह है

घर का ख़र्च

घरेलू ख़र्च, वो ख़र्च जो केवल घर से संबंधित हो

घर का चराग़

घर का उजाला, घर की प्रसिद्धि का कारण, ख़ानदान का नाम रोशन करने वाला, बेटा

घर खाए जाता है

घर काटने को दौड़ता है, घर का माहौल उलझन का सबब है, परेशानी के कारण घर में दिल नहीं लगता है

घर में बरकत है

घर में मेहमान है , (कनाएन) मस्रूफ़ियत है, फ़ुर्सत नहीं है

घर का धंदा

घर का काम काज, गृहकार्य, उमूर-ए-ख़ानगी, गृह व्यापार

आफ़त का घर

वह स्थान जहाँ बहुत संकट और विपत्तियाँ आती हों, कठिनाई और मुसीबत का घर

ख़ुदा का घर

हम-संग घर का जाया

पड़ोसी अपने घर वालों की तरह होता है, पड़ोसी अस्ली रिश्तेदार के जैसा होता

घर वाले का एक घर, निघरे के सौ घर

लुच्चों का हर जगह ठिकाना हो जाता है, निश्चिंत और भिक्षुक जहां भी ठहर जाए वही उस का घर है, जिस के पास घर न हो वह पथिक है

ज़र है तो घर है नहीं खंडर है

रुपया पैसा हो तो घर अच्छ्াी हालत में नज़र आता है नहीं तो खंडर बिन जाता है

मौत का घर घाट नहीं

मौत हर जगह आती है इस का कोई नहीं हुय

ख़ाला जी का घर नहीं

(संकेतात्मक) सरल काम नहीं, साधारण बात नहीं

घर आँगन का रिश्ता

घर घर का एक ही लेखा

सब का एक ही हाल है

ख़ाला का घर

रुक : ख़ाला जी का घर मानी १, २

कंगाल घर का

ग़रीब घर का, दरिद्र परिवार का, बहुत ग़रीब घर का

घर भायँ भायँ करता है

वहाँ उस के घर बसंत है , यहाँ मेरे घर बसंत

में इस के घर जाना नहीं चाहता, अगर इस को यहां आने में उज़्र है तो मुझे भी उज़्र है

कबूतर-ख़ाने का सा हाल है, एक आता है, एक जाता है

वहाँ कहते हैं जहाँ बहुत से नौकर हों

तालि' का घर

टंटे का घर

झगड़े की जड़, लड़ाका

खिलाए का नाम नहीं , रोलाए का नाम है

घर का घर साफ़ हो जाना

घर के बेशतर अफ़राद का मर जाना, घर भर का वफ़ात पा जाना पूरे ख़ानदान का तबाह होजाना

पूछते पूछते ख़ुदा का घर मिल जाता है

कोशिश और प्रयत्न से कठिन से कठिन काम बन जाता है

ग़ैर का घर थूक का डर

अपनी चीज़ को चाहे जिस तरह बरतें, दूसरे की चीज़ की इख़तियार करनी पड़ती है

मियों का घर बुरा

कोई तदबीर कारगर नहीं होती

किराए का घर लेना

उजरत पर मकान हासिल करना

घर मिलता है तो बर नहीं मिलता बर मिलता है तो घर नहीं मिलता

बेटियों के लिए अच्छा रिश्ता न मिलने पर कहती हैं यानी अमीर है तो लड़का अच्छा नहीं, लड़का अच्छा है तो ग़रीबी है

घर का बोझ संभालना

रुक : घर का बोझ उठाना, घर का ख़र्च अपने ज़िम्मे लेना, घर के अख़राजात का कफ़ील होना

घर-बार का होना

शादी होना, घर का मालिक होना, बाल बच्चों का बोझ सर पर आ पड़ना

रहतों का घर नहीं होता

असल आबादी मालिक ही से होती है

झूटों का घर नहीं बस्ता

झूठ पनप नहीं पाता

घर का सफ़ाया करना

पूरे घर को मौत के घाट उतार देना, तबाह कर देना, बर्बाद कर देना

ख़ैरात घर से शुरू' होती है

पहले अपने पीछे पराये, परोपकार अपने घर से ही प्रारंभ होता है

घर घर मटियाले चूल्हे हैं

कोई आसूदा हाल नहीं सब एक जैसी हालत में हैं

हँसते घर बसते हैं

रुक : हंसते ही घर बस्ते हैं

आँच का खेल है

(बावर्चियों और कीमिया गुरों वग़ैरा की बोल चाल) जब कई चीज़ पकाने या तपाने में बिगड़ जाती है तो कहते हैं ये तो आंच का खेल है यानी ज़रा आंच कड़ी हो गई, तो ख़राबी और ज़रा आंच धीमी हुई तो ख़राबी . मतलब ये है कि नाज़ुक और मुश्किल काम है

घर का आँगन हो जाना

घर का तबाह हो जाना, घर का वीरान हो जाना, किसी का बिल्कुल बर्बाद हो जाना, कंगाल हो जाना

नौकरी ख़ाला जी का घर नहीं

नौकरी कुछ घर की बात नहीं है कि जी में आया किया, न जी में आया न किया, नौकरी में पाबंदी ज़रूरी है, नौकरी आसान काम नहीं इस में पाबंदी बहुत ज़रूरी होती है

लाख का घर ख़ाक करना

सारी दौलत बर्बाद कर देना, बिलकुल तबाह कर देना, सारी मेहनत पर पानी फेर देना, बना बनाया काम या की कराई मशक्कत का ज़ाए कर देना, भारी नुक़्सान कर देना, की कराई पर झाड़ू फेर देना

गुड़िया का घर

घर का कूड़ा

घर का भाड़ा

ख़ुसर का घर होना

अपने घर की तरह होना, आसान काम होना, मामूली बात होना या हंसी खेल होना, आराम की जगह होना या बेतकल्लुफ़ी की जगह होना, निहायत आसान अमर होना

हिन्दी, इंग्लिश और उर्दू में मौसी का घर नहीं है के अर्थदेखिए

मौसी का घर नहीं है

mausii kaa ghar nahii.n haiمَوسی کا گَھر نَہِیں ہے

कहावत

मौसी का घर नहीं है के हिंदी अर्थ

 

  • ख़ाला जी का घर नहीं है , आसान काम नहीं है , खेल नहीं है , किसी की तनआसानी और लापरवाई को देख कर कहते हैं
rd-app-promo-desktop rd-app-promo-mobile

مَوسی کا گَھر نَہِیں ہے کے اردو معانی

 

  • خالہ جی کا گھر نہیں ہے ؛ آسان کام نہیں ہے ؛ کھیل نہیں ہے ؛ کسی کی تن آسانی اور لاپروائی کو دیکھ کر کہتے ہیں ۔

सूचनार्थ: औपचारिक आरंभ से पूर्व यह रेख़्ता डिक्शनरी का बीटा वर्ज़न है। इस पर अंतिम रूप से काम जारी है। इसमें किसी भी विसंगति के संदर्भ में हमें dictionary@rekhta.org पर सूचित करें। या सुझाव दीजिए

संदर्भग्रंथ सूची: रेख़्ता डिक्शनरी में उपयोग किये गये स्रोतों की सूची देखें .

सुझाव दीजिए (मौसी का घर नहीं है)

नाम

ई-मेल

प्रतिक्रिया

मौसी का घर नहीं है

चित्र अपलोड कीजिएअधिक जानिए

नाम

ई-मेल

प्रदर्शित नाम

चित्र संलग्न कीजिए

चित्र चुनिए
(format .png, .jpg, .jpeg & max size 4MB and upto 4 images)
बोलिए

Delete 44 saved words?

क्या आप वास्तव में इन प्रविष्टियों को हटा रहे हैं? इन्हें पुन: पूर्ववत् करना संभव नहीं होगा

Want to show word meaning

Do you really want to Show these meaning? This process cannot be undone

Recent Words