खोजे गए परिणाम

सहेजे गए शब्द

"मुँह से उफ़ न करना" शब्द से संबंधित परिणाम

मुँह से उफ़ न करना

शिकायत न करना, शिकवा न करना, अत्याचार पर याचना न करना, ज़ुल्म-ओ-जोर पर फ़रियाद न करना, बद्दुआ या श्राप न देना, धैर्य रखना

मुँह से उफ़ न निकालना

रुक : मुँह से उफ़ ना करना

मुँह से न करना

ज़ुबान से उफ़ न करना

शिकायत न करना, बेचैनी, असुविधा और पीड़ा को छुपाना उनको व्यक्त न करना

मुँह से आह न करना

۔शिकवा नहकरना। किसी ज़ुलम-ओ-जोर का।

मुँह से आह न करना

शिकवे-शिकायत ज़बान पर ना लाना, ज़ुलम-ओ-सितम की शिकायत ना करना

न मुँह से बोले न सर से खेले

न मुँह से बोले, न सर से खेले

वो शख़्स जो बिलकुल ख़ामोश रहता हो उस की बाबत कहते हैं

मुँह से न निकालना

बिलकुल ना कहना, ज़िक्र तक ना करना, राज़ में रखना

मुँह से न फूटना

(तिरस्कारपूर्ण) मुँह से न कहना, वर्णन न करना, ज़बान से न कहना, बयान न करना, कहते हुए हिचकिचाना

मुँह से बस करना

۔ ज़बान से इनकार करना। मुनह से रोकना। काफ़ी समझना।

मुँह सामने न करना

आमने सामने न आना, रूबरू न आना, बहुत लज्जित या शर्मिंदा होना

मुँह से बस करना

ज़बान से इनकार करना, मुँह से रोकना, काफ़ी समझना

मुँह से बोलना न सर से खेलना

बिलकुल ख़ामोश रहना, कुछ ना कहना, बे-हिस-ओ-हरकत होजाना, मबहूत होजाना

जिस मुँह से पान खाइए, उस मुँह से कोयले न चबाइए

जिस को एक बार अच्छा कहा जाए उसे बुरा नहीं कहना चाहिए

तमाँचों से मुँह लाल करना

थप्पड़ मार कर मुँह सुरख़ करना , बनावट से सुर्ख़रूई ज़ाहिर करना

मुँह से हाँ नहीं करना

इक़रार या इनकार करना

मुँह से हाँ नहीं करना

۔ मुनह से इक़रार या इनकार करना। २। मुनह से इक़रार या इनकार करना।

मुँह से साँस तक न निकालना

कुछ शिकायत न करना, बिलकुल चुप रहना, धीरज रखना और कुछ न कहना

काटा मुँह से बोले न सर से खेले

ऐसे शख़्स के बारे में बोलते हैं जिस के मकर-ओ-फ़रेब से नजात मुम्किन ना हो, मर्ज़ का लाइलाज होना

मुँह से आवाज़ न निकलना

मुँह से आवाज़ न निकलना

डर के मारे घिग्घी बँध जाना, बात न हो सकना

उफ़ न करना

बेहद सब्र करना, एक अक्षर न कहना, शिकायत तक ज़बान पर न लाना

मुँह से बात न निकालना

बात मुँह से न निकलना

कहने से लाचार होना, कुछ न कह सकना

मुँह से बात न निकलना

मुँह से नाम न लेना

बिलकुल ज़िक्र ना करना, (नफ़रत, बेज़ारी या किसी भी सबब से) ख़ामोशी इख़तियार कर लेना, चुप साध लेना, बातचीत ना करना

बात मुँह से न निकालना

कुछ न कहना, ख़ामोश रहना, चुप्पी साधना

मुँह से भाप न निकालना

ज़रा न बोलना, चूँ तक न करना, बिलकुल ज़बान को हरकत न देना, कुछ न कहना, चुप रहना

मुँह से बात न निकलना

ख़ौफ़ या ग़ुस्से के मारे बात ना करना, दहश्त से बोल ना सकना, कुछ कहा ना जाना

तमाँचे से मुँह लाल करना

थप्पड़ मार कर मुँह सुरख़ करना , बनावट से सुर्ख़रूई ज़ाहिर करना

मुँह से अदा करना

(शब्द आदि) ज़बान से कहना, बोलना

मुँह पर ख़ुशामद न करना

लगी-लिपटी ना कहना, रास्त बाज़ और साफ़ गो होना, पासदारी ना करना

मुँह पे ख़ुशामद न करना

लगी-लिपटी ना कहना, रास्त बाज़ और साफ़ गो होना, पासदारी ना करना

मुँह भी सामने न करना

असलन मुतवज्जा ना होना , शक्ल ना दिखाना

मुँह से कुछ न फूटना

(उपेक्षा की दृष्टी में) शांत रहना, कुछ न कह सकना

मुँह से कुछ न निकालना

कुछ ना कहना, बिलकुल चुप रहना

टस से मस न करना

टस से मस ना होना (रुक) का मुतअद्दी

सीधे मुँह बात न करना

की तरफ़ मुँह न करना

तशह्हुद मुँह से जारी करना

तशह्हुद पढ़ना, शहादत का कलमा पढ़ना

सात तवों से मुँह काला करना

(नफ़रत ज़ाहिर करने के लिए बोलते हैं) निहायत ज़लील समझना, ख़ातिर में ना लाना, बहुत ज़लील करना, बात ना पूओछना, निकाला देना

मीठे मुँह से बात करना

नम्रता और कोमलता से बात करना

मुँह से दूदा की बू न जाना

अभी बच्चा होना, नादान होना

मुँह से भाप तक न निकालना

भाप भी मुँह से न निकालना

अत्यंत गोपनीयता से काम लेना, बहुत गोपनीयता बरतना

मुँह कान से मिला कर बातें करना

۔जो शख़्स ऊंचा सुनता है इस से इसी तरह बात चेतकरते हैं।

मुँह कान से मिला कर बातें करना

कान के क़रीब मुँह कर के बातचीत करना (अमोमा ऊंचा सुनने वालों से)

सात तवों की सियाही से मुँह काला करना

(नफ़रत ज़ाहिर करने के लिए बोलते हैं) निहायत ज़लील समझना, ख़ातिर में ना लाना, बहुत ज़लील करना, बात ना पूओछना, निकाला देना

दूध की बू मुँह से न जाना

बचपन की ख़ूओबूओ मौजूद होना, अल्हड़ पन बाक़ी होना, नासमझ होना

मुँह से दूध की बू न जाना

अनुभवहीन बने रहना, दूध पीने की अवधि में होना, अभी बच्चा होना, अपरिपक्व होना

मुँह से कहना आसान है करना मुश्किल है

कुछ कहना आसान है लेकिन अमल कर के दिखाना मुश्किल है

मुँह न करना

۴۔ (बटेर बाज़) भग्य बटेर का दूसरे बटेर से लड़ने के लिए तैयार ना होना

हिन्दी, इंग्लिश और उर्दू में मुँह से उफ़ न करना के अर्थदेखिए

मुँह से उफ़ न करना

mu.nh se uf na karnaaمُنہ سے اُف نَہ کَرنا

मुहावरा

मुँह से उफ़ न करना के हिंदी अर्थ

  • शिकायत न करना, शिकवा न करना, अत्याचार पर याचना न करना, ज़ुल्म-ओ-जोर पर फ़रियाद न करना, बद्दुआ या श्राप न देना, धैर्य रखना

مُنہ سے اُف نَہ کَرنا کے اردو معانی

  • شکوہ نہ کرنا ، ظلم و جور پر فریاد نہ کرنا ، بددعا نہ دینا ، صابر و شاکر رہنا ۔

संदर्भग्रंथ सूची: रेख़्ता डिक्शनरी में उपयोग किये गये स्रोतों की सूची देखें .

सुझाव दीजिए (मुँह से उफ़ न करना)

नाम

ई-मेल

प्रतिक्रिया

मुँह से उफ़ न करना

चित्र अपलोड कीजिएअधिक जानिए

नाम

ई-मेल

प्रदर्शित नाम

चित्र संलग्न कीजिए

चित्र चुनिए
(format .png, .jpg, .jpeg & max size 4MB and upto 4 images)
बोलिए

Delete 44 saved words?

क्या आप वास्तव में इन प्रविष्टियों को हटा रहे हैं? इन्हें पुन: पूर्ववत् करना संभव नहीं होगा

Want to show word meaning

Do you really want to Show these meaning? This process cannot be undone