खोजे गए परिणाम

सहेजे गए शब्द

"क्या मुँह में घूँगनियाँ हैं" शब्द से संबंधित परिणाम

क्या मुँह में घूँगनियाँ हैं

रुक : क्या मुंह में पंजीरी भरी है

मुँह में कै दाँत हैं

क्या ताक़त है, क्या कर सकते हो

क्या मुँह से फूल झड़ने हैं

क्या मुँह से फूल झड़ते हैं

(तारीफ़ के लिए) किस क़दर ख़ुश बयां है, कैसा फ़सीह है नीज़ जब कोई शख़्स बदकलामी करता है तो इस से तनज़्ज़ा भी कहते हैं

मुँह से क्या फूल झड़ते हैं

क्या पसंदीदा बातें करते हैं; (व्यंग्यात्मक) बुरी बातें करते हैं

क्या मुँह में पंजीरी भरी है

बोलते क्यूँ नहीं, चुप क्यूँ हो

तुम्हारे मुँह में कै दाँत हैं

तुम कौन हो, तुम्हें क्या हक़ या इख़तियार है, तुम्हारी क्या औक़ात या हैसियत है (कोई रोक टोक या पूछगिछ ना हो तो इस मौक़ा पर कहते हैं)

आप दुनिया में हैं क्या मैं दुनिया में नहीं

मैं आप की चालें ख़ूब समझता हूँ मुझ से चालाकी न कीजिए

काल के मुँह में सब हैं

सब को मौत आकर रहती है

क्या धूप में बाल सफ़ेद किए हैं

बूढ़े और उम्र रसीदा होने पर भी कवी तजुर्बा ना हुआ

कहने को मुँह में ज़बान रखते हैं

सवाल का जवाब दे सकते हैं, जैसा कहोगे वैसा सुनोगे , बराए नाम ज़बान है, गोयाई के काबिल नहीं

क्या लड़ाई में पान फूल बटते हैं

झगड़े फ़साद में खातिरदारी थोड़ी होती है

कोई नहीं पूछता कि तुम्हारे मुँह में कितने दाँत हैं

कोई नहीं पूछ्ता कि तेरे मुँह में कै दाँत हैं

बहुत शांति का ज़माना है, किसी तरह की पूछताछ नहीं

जिस के मुँह में चावल होते हैं वो ख़ूब चबा-चबा कर बातें करता है

जिसके पास धन होता है वह बहुत घमंड से बातें करता है

कहने से बात पराई होती है, कहने को मुँह में ज़बान रखते हैं

सवाल का जवाब दे सकते हैं

हाथी के मुँह में लकड़ी पकड़ाते हैं

प्रभावशाली को माल देकर वापस लेना चाहते हैं, ज़बरदस्त का मुक़ाबला करते हैं, शक्तिशाली को धोका देने की कोशिश करते हैं

ये भी किसी ने नहीं पूछा कि तेरी मुँह में कितने दाँत हैं

जहां किसी की कोई पूछगिछ और ख़ातिर तवाज़ो ना हो वहां ये मुहावरा बोलते हैं

ये भी किसी ने न पूछा कि तेरी मुँह में कितने दाँत हैं

जहां किसी की कोई पूछगिछ और ख़ातिर तवाज़ो ना हो वहां ये मुहावरा बोलते हैं

जिस के मुँह में चावल होते हैं वो चबा चबा कर बातें करता है

जिस के पास दौलत होती है वही इतराता है

जिस के मुँह में चावल होते हैं वो चबा चबा कर ख़ूब बातें करता है

गधे के मुँह में शहद डालने का क्या फ़ाइदा

अयोग्य को पद देने से कोई लाभ नहीं होता

हिन्दी, इंग्लिश और उर्दू में क्या मुँह में घूँगनियाँ हैं के अर्थदेखिए

क्या मुँह में घूँगनियाँ हैं

kyaa mu.nh me.n ghuu.ngniyaa.n hai.nکیا مُنھ میں گُھونگنِیاں ہَیں

क्या मुँह में घूँगनियाँ हैं के हिंदी अर्थ

  • रुक : क्या मुंह में पंजीरी भरी है

کیا مُنھ میں گُھونگنِیاں ہَیں کے اردو معانی

  • رک : کیا مُن٘ھ میں پنجیری بھری ہے

संदर्भग्रंथ सूची: रेख़्ता डिक्शनरी में उपयोग किये गये स्रोतों की सूची देखें .

सुझाव दीजिए (क्या मुँह में घूँगनियाँ हैं)

नाम

ई-मेल

प्रतिक्रिया

क्या मुँह में घूँगनियाँ हैं

चित्र अपलोड कीजिएअधिक जानिए

नाम

ई-मेल

प्रदर्शित नाम

चित्र संलग्न कीजिए

चित्र चुनिए
(format .png, .jpg, .jpeg & max size 4MB and upto 4 images)
बोलिए

Delete 44 saved words?

क्या आप वास्तव में इन प्रविष्टियों को हटा रहे हैं? इन्हें पुन: पूर्ववत् करना संभव नहीं होगा

Want to show word meaning

Do you really want to Show these meaning? This process cannot be undone