Search results

Saved words

Showing results for "dhyaan"

dhyaan

heed, attention, consideration, regard

dhyaan-suu.n

dhyaanii

considerate, thoughtful, attentive, engaged or absorbed in religious meditation, contemplative, related to meditation

dhyaanaa

to think, to consider, to pay attention, trying to find out

dhyaan denaa

listen with full attention, give ear to

dhyaan pa.Dnaa

dhyaan la.Dnaa

dhyaan-nagar

dhyaan aanaa

dhyaan dau.Dnaa

dhyaan dharnaa

pay attention or regard to

dhyaan-gyaan

religious, mystical or spiritual contemplation, meditation

dhyaan chho.Dnaa

dhyaan dau.Daanaa

dhyaan ga.Dhnaa

dhyaan honaa

dhyaan paka.Dnaa

dhyaan cha.Dhnaa

dhyaan jaanaa

dhyaan rahnaa

dhyaan karnaa

contemplate, meditate (on)

dhyaan laanaa

dhyaan lagnaa

dhyaan baa.ndhnaa

dhyaan basnaa

dhyaan ba.ndhnaa

dhyaan dilaanaa

dhyaan TuuTnaa

dhyaan Daalnaa

dhyaan haTnaa

dhyaan rakhnaa

keep in mind, keep the attention fixed on

dhyaan par cha.Dhnaa

take one's fancy

dhyaan pa.Daa honaa

dhyaan phirnaa

dhyaan lagaanaa

to focus, concentrate

dhyaan baTaanaa

distract, divert attention

dhyaan jamaanaa

concentrate, keep attention

dhyaan uchaTnaa

dhyaan me.n honaa

dhyaan haTaanaa

dhyaan me.n laanaa

dhyaan bhaaTaknaa

dhyaan me.n rakhnaa

dhyaan me.n Thaharnaa

dhyaan le jaanaa

dhyaan kii Dorii

dhyaan pher hamla

(military) attack carried out to divert the attention of enemy, feint

dhyaan me.n na laanaa

disregard

dhyaan na karnaa

dhyaan haT jaanaa

Meaning ofSee meaning dhyaan in English, Hindi & Urdu

dhyaan

ध्यानدِھیان

Origin: Hindi

Vazn : 21

English meaning of dhyaan

Noun, Masculine

  • heed, attention, consideration, regard
  • thought, contemplation, meditation
  • fear

Sher Examples

rd-app-promo-desktop rd-app-promo-mobile

ध्यान के हिंदी अर्थ

संज्ञा, पुल्लिंग

  • अंतःकरण या मन की वह वृत्ति या शक्ति जो उसे किसी चीज या बात का बोध कराती, उसमें कोई धारणा उत्पन्न करती अथवा कोई स्मृति जाग्रत करती है। जैसे-हमने उन्हें एक बार देखा तो है, पर उनकी आकृति हमारे ध्यान में नहीं आ रही है। मुहा०-ध्यान पर चढ़ना = किसी बात का चित्त या मन में कुछ समय के लिए अपना स्थान बना लेना। जैसे-अब तक वही दृश्य हमारे ध्यान पर चढ़ा है। ध्यान से उतरना ध्यान के क्षेत्र से बाहर हो जाना। याद न रह जाना। जैसे-आपकी पुस्तक लाना मेरे ध्यान से उतर गया।
  • ध्यान
  • ० = ध्यान
  • अंतःकरण या मन की वह वृत्ति या स्थिति जिसमें वह किसी चीज या बात के संबंध में चिंतन, मनन या विचार करने में अग्रसर या प्रवृत्त होता है। किसी विषय को मानस-क्षेत्र में लाने या प्रत्यक्ष करने की अवस्था, क्रिया या भाव। मन का किसी विशिष्ट काम या बात की ओर लगना या होना। खयाल। जैसे-(क) हमारी बात ध्यान से सुनो। (ख) अभी वे किसी और ध्यान में हैं, उन्हें मत छेड़ो। क्रि० प्र०-आना।-जाना।-दिलाना।-देना।-लगना। -लगाना। विशेष-मानसिक और शारीरिक क्षेत्रों के अधिकतर कामों में हम मुख्यतः ध्यान की प्रेरणा और बल से ही प्रवृत्त होते हैं। कभी तो बाह्य इंद्रियों का कोई व्यापार हमारा ध्यान किसी ओर लगाता है, (जैसे-कोई चीज दिखाई पड़ने पर उसकी ओर ध्यान जाना) और कभी मन स्वतः किसी प्रकार के ध्यान में लग जाता है, (जैसे-कोई बात याद आने पर उसकी ओर ध्यान जाना या लगना)। यह हमारे अंतःकरण या चेतना की जाग्रत अवस्था का ऐसा व्यापार है जिससे कोई बात, भाव या रूप हमारे विचार का केंद्र बन जाता या हमारे मन में सर्वोपरि हो जाता है। महा०-(किसी चीज या बात पर) ध्यान जमना = चित्त का एकाग्र होकर किसी ओर उन्मुख होना। किसी काम या बात में मन का समु चित रूप से प्रवृत्त होकर स्थित होना। ध्यान बँटना जब ध्यान एक ओर लगा हो, तब कोई दूसरा काम या बात सामने आने पर उसमें बाधा या विघ्न होना। ध्यान बँधना या लगना = (क) दे० ऊपर ' ध्यान जमना '। (ख) किसी प्रकार के मानसिक चितन का क्रम बराबर चलता रहना। जैसे-जब से उनकी बीमारी का समाचार मिला है, तब से हमारा ध्यान उन्हीं की तरफ बँधा (या लगा) है। (किसी के) ध्यान में डूबना, मग्न होना या लगना = किसी के चिंतन, मनन या विचार में इस प्रकार प्रवृत्त या लीन होना कि दूसरी बातों की चिंता, विचार या स्मरण ही न रह जाय। उदा०-कब की ध्यान-लगी लखै, यह घर लगिहै काहि।-बिहारी। (किसी को) ध्यान में लाना = (क) किसी को अपने मानस-क्षेत्र में स्थान देना या स्थापित करना। बराबर मन में बनाये रखना। उदा०-(क) ध्यान आनि ढिग प्रान-पति रहति मुदित दिन राति।-बिहारी। (ख) किसी का कुछ महत्त्व समझाते या सम्मान करते हुए उसके संबंध में कुछ विचार करना या सोचना। चिंता या परवाह करना। जैसे-वह तुम्हारे भाई साहब को तो ध्यान में लाता ही नहीं, तुम्हें वह क्या समझेगा ! (किसी काम, चीज या बात का) ध्यान रखना इस प्रकार सतर्क या सावधान रहना कि कोई अनुचित या अवांछनीय काम या बात न होने पावे अथवा कोई क्रम इष्ट और यथोचित रूप में चलता रहे। जैसे-(क) ध्यान रखना, यहाँ से कोई चीज गुम न होने पावे। (ख) हमारी अनुपस्थिति में रोगी का ध्यान रखना। पद-ध्यान से तत्पर, दत्तचित्त या सावधान होकर। जैसे-चिट्ठी जरा ध्यान से पढ़ो।
  • किसी विशेष विषय पर चित्त की एकाग्रता
  • किसी स्वरूप का एकाग्र चिंतन
  • चिंतन या मनन करने की प्रवृत्ति
  • स्मृति; याद; ख़याल
  • (योग) ध्येय विषय के साथ चित्त की एकाग्रता
  • गौर; सोच-विचार
  • बुद्धि; समझ।

دِھیان کے اردو معانی

اسم, مذکر

  • سُدھ، توجہ، اِلتفات
  • پاس، لحاظ، مُروّت
  • مراقبہ، روحانی عِلم، راہ سلوک، عبادت، اِستغراق
  • غور، فکر، مطالعہ، حقیقیت کی تلاش
  • ڈر، خوف

Compound words of dhyaan

Disclaimer: This is Beta version of Rekhta Dictionary undergoing final testing before its official release. In case of any discrepancy, please write to us at dictionary@rekhta.org. or Critique us

Citation Index: See the sources referred to in building Rekhta Dictionary

Critique us (dhyaan)

Name

Email

Comment

dhyaan

Upload Image Learn More

Name

Email

Display Name

Attach Image

Select image
(format .png, .jpg, .jpeg & max size 4MB and upto 4 images)
Speak Now

Delete 44 saved words?

Do you really want to delete these records? This process cannot be undone

Want to show word meaning

Do you really want to Show these meaning? This process cannot be undone

Recent Words