खोजे गए परिणाम

सहेजे गए शब्द

"नाक पर मक्खी न बैठने देना" शब्द से संबंधित परिणाम

मक्खी नाक पर नहीं बैठने देना

बहुत नाज़ुक-मिज़ाज होना, बड़ा साहिब इग़ीरत होना, निहायत बेदिमाग़ होना,किसी का एहसान नहीं उठाना

मक्खी नाक पर नहीं बैठने देता

नाक पर मक्खी न बैठने देना

۔ किनाया है किसी के एहसान ख़फ़ीफ़ के बाद भी शर्मिंदा ना होने से ।

मुँह पर नाक न होना

प्रतीकात्मक: निर्लज होना, बेहया होना, लज्जा, अहम, सम्मान, ख्याति आदि का ख़्याल ना होना

मुँह पर नाक न होना

बेग़ैरत, बेशरम होना, नंग-ओ-नामूस का ख़्याल ना होना, बेइज़्ज़त होना

नाक पर की मक्खी तक न उड़ाना

۔ (कनाएन) कमाल मजहूल होना। (इजतिहाद) ये चाहो कि तुम नाक पर की मक्खी तक ना उड़ाओ। तो जन्नत नानी जी का घर नहीं है कि दर्रा ना जा घुसे

नाकों-नाक भर देना

लबालब भर देना

नाक न हो तो गू खाएँ

महिलाओं की निंदा में प्रयुक्त, अर्थात अगर इज़्ज़त की परवाह न हो तो ख़राब से ख़राब बैठें

नाक की मक्खी तक न उड़ाना

बहुत अधिक आलसी होना, सुस्त होना, बहुत ज़्यादा काहिल होना

बैठने-हारा

ज़मीन पर न थमने देना

नाक न हो तो गुह खाएँ

आबरू की पर्वा ना करें (औरतों की बद अकली के इज़हार के लिए मुस्तामल)

मुँह पे नाक न होना

बेग़ैरत, बेशरम होना, नंग-ओ-नामूस का ख़्याल ना होना, बेइज़्ज़त होना

ज़मीन पर नाक घिसना

विनम्रता प्रकट करना, दीनता और विनय दिखाना

नाक में तीर देना

बहुत तंग करना, निहायत दिक़ करना, ख़ूब सताना, मजबूर-ओ-आजिज़ कर देना

नाक पर उँगली रख कर बात करना

नाक छींक देना

नाक चोटी पर आफ़त आना

इज़्ज़त आबरू पर आफ़त आना

नाक चोटी पर आफ़त आना

रुस्वाई होना, इज़्ज़त-ओ-आबरू को नुक़्सान पहुँचना

नाक पर मिज़ाज होना

रुक : नाक पर ग़ुस्सा होना

आँख न नाक बन्नो चाँद सी

(व्यंगात्मक) उस बदसूरत या कुरूप के लिए प्रयुक्त जो अपने को सुंदर जाने, शक़्ल-सूरत तो भद्दी फिर भी चटक-मटक से रहना

पाँव ज़मीन पर न रखने देना

पंजों के बिल चलना

माँस-मक्खी

नाक उड़ा देना

नाक काटना , बेइज़्ज़त करना

किसी चीज़ पर हाथ न रखने देना

गिरानी के बाइस उस चीज़ को ना छूने देना, ज़्यादा क़दर-ओ-मांग के बाइस किसी चीज़ को हाथ ना लगाने देना, किसी चीज़ की फ़रोख़त में निहायत बेपर्वाई-ओ-तुर्श-रूई को काम में लाना

आँच न आने देना

इल्ज़ाम से बचाना, (शारीरिक या आध्यात्मिक) आघात से सुरक्षित रखना

नाक में धूनी देना

सिंघाना, पर डालना नीज़ सब का हिस्सा लगाना, बहलाना, बगै़र कुछ दिए ख़ुश करने की कोशिश करना

टिकंड-मक्खी

'अक़रब-मक्खी

एक मक्खी जिस का पेट बिच्छू के डंक की तरह ऊपर को मुड़ा हुआ होता है

'अक़रबी-मक्खी

पाया-ए-तख़्त पर जगह देना

इज़्ज़त बख़्शना , बादशाह जब किसी से बहुत ख़ुश होते थे तो उसे तख़्त के हाय पर बैठने की इजाज़त देते थे

ग़ुस्सा नाक पर रहना

ज़रा ज़रा सी बात पर बिगड़ा जाना, बात बात पर ग़ुस्सा आना, बहुत जल्द ख़फ़ा हो जाना

ग़ुस्सा नाक पर होना

नाक पर ग़ुस्सा रहना

रुक : नाक पर ग़ुस्सा धरा होना

जूती पर नाक रगड़ना

(ओ) ख़ुशामद करना, पैरों में सर देना, आजिज़ी क़बूल करना

फ़तीला नाक में देना

۱. तावीज़ की बत्ती की ध्वनि देना, नाक में बत्ती देना

मुँह पर देना

मुँह पर मारना, चेहरे पर (तलवार वग़ैरा) की ज़रब लगाना

नाक पर दिया बाल कर आए हैं

देर से आए हैं, वक़्त पर नहीं आए

मुँह पर न थूकना

मक्खी-ख़ाना

सारंग-मक्खी

साँस न लेने देना

आजिज़ कर देना, क़ाफ़िया तंग करना

हाथ पाँव पट्ठे पर न रखने देना

नाक पर ग़ुस्सा होना

रुक : नाक पर ग़ुस्सा धरा होना

मुँह पर थूक देना

बाज़ार की बैठने वाली

कसबी, वेश्या

मक्खी हाँकना

मक्खी हँकाना

मक्खियां उड़ाना, मक्खी झलना

फाँसी पर लटका देना

रुक: फांसी देना

डोर पर माँझा देना

(पतंग बाज़ी) बारीक पिसा हुआ शीशा चावलों की लुबदी में मिला कर धागे या डोर पर लगाना ताकि माँझा तैयार हो जाये, डोर सूओतना

मक्खी उड़ा देना

काटी उँगली पर न मूतना

ज़रा भी हमदर्दी न करना, अत्यधिक आलसी या बेदर्द हो जाना

डिंग़ारा-मक्खी

फ़तीला नाक में देना

۲. दिक़ करना

मुँह पर न कहना

सामने न कहना, पीठपीछे कहना

मुँह पर न थूकना

बहुत नफ़रत करना, निहायत हक़ीर और नाक़ाबिल इअलतफ़ात समझना

मुँह पर न रखना

۲۔ ज़बान पर ना रखना, ज़रा ना चखना, मुँह तक ना ले जाना

किराए पर देना

मकान आदि किराए पर इस्तेमाल के लिए देना

कान पर जूँ न सीलना

परवाना करना, ग़ाफ़िल या बे-ख़बर होना

कान पर जूँ न चलना

बिलकुल पर्वा ना करना, यकसर ग़ाफ़िल या बे-ख़बर होना, क़तई तवज्जा ना करना, कोई आवर क़बूल ना करना

हिन्दी, इंग्लिश और उर्दू में नाक पर मक्खी न बैठने देना के अर्थदेखिए

नाक पर मक्खी न बैठने देना

naak par makkhii na baiThne denaaناک پَر مَکّھی نَہ بَیٹھنے دینا

मुहावरा

नाक पर मक्खी न बैठने देना के हिंदी अर्थ

 

  • ۔ किनाया है किसी के एहसान ख़फ़ीफ़ के बाद भी शर्मिंदा ना होने से ।
  • निहायत तुनुक-मिज़ाज होना, किसी की ज़रा सी बात भी बर्दाश्त ना करना, किसी का ज़रा सा भी एहसान ना लेना, ख़ुद्दारी पर हर्फ़ ना आने देना
rd-app-promo-desktop rd-app-promo-mobile

English meaning of naak par makkhii na baiThne denaa

 

  • be intolerant, be proud

ناک پَر مَکّھی نَہ بَیٹھنے دینا کے اردو معانی

 

  • نہایت تنک مزاج ہونا، کسی کی ذرا سی بات بھی برداشت نہ کرنا، کسی کا ذرا سا بھی احسان نہ لینا، خود داری پر حرف نہ آنے دینا، کنایہ ہے کسی کے احسان خفیف کے بعد بھی شرمندہ نہ ہونے سے

सूचनार्थ: औपचारिक आरंभ से पूर्व यह रेख़्ता डिक्शनरी का बीटा वर्ज़न है। इस पर अंतिम रूप से काम जारी है। इसमें किसी भी विसंगति के संदर्भ में हमें dictionary@rekhta.org पर सूचित करें। या सुझाव दीजिए

संदर्भग्रंथ सूची: रेख़्ता डिक्शनरी में उपयोग किये गये स्रोतों की सूची देखें .

सुझाव दीजिए (नाक पर मक्खी न बैठने देना)

नाम

ई-मेल

प्रतिक्रिया

नाक पर मक्खी न बैठने देना

चित्र अपलोड कीजिएअधिक जानिए

नाम

ई-मेल

प्रदर्शित नाम

चित्र संलग्न कीजिए

चित्र चुनिए
(format .png, .jpg, .jpeg & max size 4MB and upto 4 images)
बोलिए

Delete 44 saved words?

क्या आप वास्तव में इन प्रविष्टियों को हटा रहे हैं? इन्हें पुन: पूर्ववत् करना संभव नहीं होगा

Want to show word meaning

Do you really want to Show these meaning? This process cannot be undone

Recent Words