खोजे गए परिणाम

सहेजे गए शब्द

"नाक पर दिया बाल कर आए हैं" शब्द से संबंधित परिणाम

नाक पर दिया बाल कर आए हैं

देर से आए हैं, वक़्त पर नहीं आए

नाक पर उँगली रख कर बात करना

खुर्री चारपाई पर सो कर आए हैं

ख़्वाहमख़्वाह सुबह सुबह बदमिज़ाजी करे या कोई आते ही झगड़ने लगे तो कहते हैं

पर-बाल

आँख की पलक पर वह फ़ालतू निकला हुआ बाल या बिरनी जिसके कारण बहुत पीड़ा होती है

हाथ दिया आड़े आए

ख़ैरात से बला दफ़ा होती है

कूएँ पर गए और प्यासे आए

जहां बड़े फ़ायदे की उम्मीद हो वहां से महरूम रहना, महरूमी-ओ-तिश्ना कामी

पर-ओ-बाल

पक्षियों के डैने और पर, प्रतीकात्मक, बल, शक्ति, ज़ोर, सहायता, मदद, सामर्थ्य

बाल-ओ-पर

(शाब्दिक) पक्षी के पर, परिंदे के बाज़ू और पर, पर-पुर्जे़

बे-पर-ओ-बाल

जिसके पर और बाजू न हों विवश, लाचार, निराश्रय, बेसहारा

कुँवें पर गए और प्यासे आए

जहाँ बड़े फ़ायदे की आशा हो वहाँ से वंचित रहने के अवसर पर बोलते हैं

बाल-ओ-पर अफ़्शानी

नाक काट कर फेंकना

बेइज़्ज़त करना, ज़लील करना, रुसवा करना, बदनाम करना

बे-बाल-ओ-पर

निःसहाय, निराश्रय, बेकस, बेबस, मजबूर, बे-सर-ओ-सामान

हाथ का दिया आड़े आए

दान मुसीबत के वक़्त काम आता है, दान आदि दुर्घटना को रोकते हैं

पर-ओ-बाल फैलाना

(लफ़ज़न) ताक़त का मुज़ाहरा करना, (मजाज़न) आज़ादी की आरज़ू या कोशिश करना

बाल-ओ-पर लगना

बाल और पर निकलना

पर-ओ-बाल निकलना

रुक : पर निकलना

बाल-ओ-पर निकालना

होश संभालना, विकसित होना, उड़ने के योग्य होना, शक्तिशाली होना

बाल-ओ-पर सटना

पर-ओ-बाल मिलाना

दोस्ती और एकता पैदा कर लेना

पर-ओ-बाल निकालना

जौबन निकालना

बाल-ओ-पर खोलना

उड़ने का इरादा करना, पर तौलना

बाल-ओ-पर डालना

हिम्मत हारना

क्या नाक ले कर बोलते हैं

मुँह पर नाक न होना

प्रतीकात्मक: निर्लज होना, बेहया होना, लज्जा, अहम, सम्मान, ख्याति आदि का ख़्याल ना होना

ज़मीन पर नाक घिसना

विनम्रता प्रकट करना, दीनता और विनय दिखाना

मस्से पर बाल बाँधना

मुसे को काटने के लिए घोड़े का बाल बांध देते हैं और हर रोज़ थोड़ा सा किस देते हैं यहां तक कि वो बगै़र तकलीफ़ के झड़ जाये

हज़ार हाथ काहिन कर आए

ख़ुदा जिस को बचाए उस पर आफ़त क्यों कर आए

अल्लाह की हिफ़ाज़त में कोई आफ़त नहीं आसकती

नाक पे उँगली रख कर बात करना

औरतों या ज़नख़ों की तरह बातें करना, ज़नाना गुफ़्तगु करना

मुँह पर नाक न होना

बेग़ैरत, बेशरम होना, नंग-ओ-नामूस का ख़्याल ना होना, बेइज़्ज़त होना

ख़ुसियों पर बाल होना

बुज़दिल या कम हिम्मत होना, जवाँमरदी में कमतर होना

ख़ुदा का दिया सर पर

जो कुछ ईश्वर की तरफ़ से हो स्वीकार करना चाहीए, जब किसी बात पर अपना वश न हो और स्वीकार करना ही करना पड़े, जो ईश्वर को भाता है वह हमें स्वीकार्य है, चाहे कष्ट ही हो, ईश्वर का दिया हमें स्वीकार्य है

नाक पर मिज़ाज होना

रुक : नाक पर ग़ुस्सा होना

बाल-ओ-पर-शिकस्ता

जिसके बाज़ू या पर टूट गये हों, मजबूर, विवश, लाचार

हज़ार हाथ का बन कर आए

कैसा ही आला मर्तबा लेकर आए, कैसा ही भारी भरकम और मोतबर बिन कर आए

नाक चोटी पर आफ़त आना

रुस्वाई होना, इज़्ज़त-ओ-आबरू को नुक़्सान पहुँचना

टाँट पर ऐक बाल न रहना

۔(कनाएन) मुफ़लिस होजाना

नाक चोटी पर आफ़त आना

इज़्ज़त आबरू पर आफ़त आना

नाक के रेंठ से बद-तर कर डालना

निहायत ज़लील करना, हक़ीर बना देना, बात ना पूछना, नज़रों से गिरा देना

बाल-बाल

एक एक रोंगटा, प्रत्येक बाल, सिर से पैर तक

ग़ुस्सा नाक पर रहना

ज़रा ज़रा सी बात पर बिगड़ा जाना, बात बात पर ग़ुस्सा आना, बहुत जल्द ख़फ़ा हो जाना

ग़ुस्सा नाक पर होना

नाक पर ग़ुस्सा रहना

रुक : नाक पर ग़ुस्सा धरा होना

मुँह पर कहे सो मूँछ का बाल

ना आसमाँ पर थूको ना गिरेबान में आए

ना किसी बड़े शख़्स के मुँह आओ ना ज़लील हो

बाल-बाल बँधना

ख़ूब अच्छी तरह जकड़ा होना

जूती पर नाक रगड़ना

(ओ) ख़ुशामद करना, पैरों में सर देना, आजिज़ी क़बूल करना

मुँह पर कहे सो मूँछ का बाल

मर्द वही है जो बला लिहाज़ सच्च बात साफ़ कह दे

क़ब्र का मुँह झाँक कर आए हैं, मर के बचे हैं

मौत के मुँह से बचकर आए हैं, मुश्किल से जान बची है

नाक पर ग़ुस्सा होना

रुक : नाक पर ग़ुस्सा धरा होना

चार बुलाए चौदह आए सुनो घर की रीत, भार के आ कर खा गए घर के गाएँ गीत

इस मौक़ा पर मुस्तामल है जब कम लोगों को दावत दी जाये और बहुत ज़्यादा आ जाएं , (कब : तीन बुलाए तेराह आए देखो यहां की रीत, बाहर वाले खा गए और घर के गावें गीत)

बाल-जंजाल बाल-सिंगार

बाल मस्से पर बांधना

आए न आए

आने और ना आने में शक होने के मौक़ा पर मुस्तामल

नाई नाई बाल कितने , जजमान जी आगे आए जाते हैं

जो बात ख़ुद पेश आने वाली है इस का बयान अबस है, जब कोई ऐसी बात के लिए पूछे जो जल्द ज़ाहिर होने वाली है तो उस वक़्त ये बोलते हैं

दिया-ए-दिलदार

नाक पर सुपारी तोड़ती हैं

बहुत तेज़ मिज़ाज हैं, बहुत तुनक मिज़ाज हैं

चंदिया पर बाल न रहना

रुक : चन्दया पर बाल ना छोड़ना , कुछ भी पास ना होना

चंदिया पर बाल न होना

रुक : चन्दया पर बाल ना छोड़ना , कुछ भी पास ना होना

हिन्दी, इंग्लिश और उर्दू में नाक पर दिया बाल कर आए हैं के अर्थदेखिए

नाक पर दिया बाल कर आए हैं

naak par diyaa baal kar aa.e hai.nناک پَر دِیا بال کَر آئے ہیں

वाक्य

नाक पर दिया बाल कर आए हैं के हिंदी अर्थ

 

  • देर से आए हैं, वक़्त पर नहीं आए
rd-app-promo-desktop rd-app-promo-mobile

ناک پَر دِیا بال کَر آئے ہیں کے اردو معانی

 

  • دیر سے آئے ہیں، وقت پر نہیں آئے

सूचनार्थ: औपचारिक आरंभ से पूर्व यह रेख़्ता डिक्शनरी का बीटा वर्ज़न है। इस पर अंतिम रूप से काम जारी है। इसमें किसी भी विसंगति के संदर्भ में हमें dictionary@rekhta.org पर सूचित करें। या सुझाव दीजिए

संदर्भग्रंथ सूची: रेख़्ता डिक्शनरी में उपयोग किये गये स्रोतों की सूची देखें .

सुझाव दीजिए (नाक पर दिया बाल कर आए हैं)

नाम

ई-मेल

प्रतिक्रिया

नाक पर दिया बाल कर आए हैं

चित्र अपलोड कीजिएअधिक जानिए

नाम

ई-मेल

प्रदर्शित नाम

चित्र संलग्न कीजिए

चित्र चुनिए
(format .png, .jpg, .jpeg & max size 4MB and upto 4 images)
बोलिए

Delete 44 saved words?

क्या आप वास्तव में इन प्रविष्टियों को हटा रहे हैं? इन्हें पुन: पूर्ववत् करना संभव नहीं होगा

Want to show word meaning

Do you really want to Show these meaning? This process cannot be undone

Recent Words