खोजे गए परिणाम

सहेजे गए शब्द

"ना-क़ाबिल-ए-परस्तिश" शब्द से संबंधित परिणाम

ना-क़ाबिल-ए-परस्तिश

जो पूजने के योग्य न हो, जो पूजा न जा सके।

ना-क़ाबिल-ए-'उबूर

जिसे पार न किया जा सके

ना-क़ाबिल-ए-ग़ौर

जिस पर ध्यान न दिया जा सके।

ना-क़ाबिल-ए-नुमाइश

जिसकी नुमाइश न की जा सके, जो सवको न दिखाया जा सके।

ना-क़ाबिल-ए-बाज़याबी

ना-क़ाबिल-ए-तसरीह

जिसका स्पष्टीकरण न हो सके, जिसकी तपसील ने बतायी जा सके।

ना-क़ाबिल-ए-गुज़र

जिस पर चलना न संभव न हो, जिस पर हो कर गुज़र न सकें

ना-क़ाबिल-ए-ज़ब्ती

वह रक़म या जाइदाद आदि जिसकी ज़ब्ती न हो सके

ना-क़ाबिल-ए-वफ़ा

फा. अ. वि.—वह प्रतिज्ञा जो पूरी न हो सके, वह वादा जो वफ़ा न हो सके।

ना-क़ाबिल-ए-अदा

जो अदाइगी के काबिल न हो, न दी जा सकनेवाली रक़म।

ना-क़ाबिल-ए-जवाब

जिसका जवाब देना ज़रूरी न हो।

ना-क़ाबिल-ए-ज़िक्र

अकथनीय, जिसका कहना उचित न हो, जो कहा न जा सके

ना-क़ाबिल-ए-इंतिज़ार

जिसकी प्रतीक्षा न की जा सके।

ना-क़ाबिल-ए-तसव्वुर

विचार से परे, जो कल्पना में न आए, अतुल्य, प्रतीकात्मक: असाधारण

ना-क़ाबिल-ए-सज़ा

जिसे सज़ा न दी जा सके, अदंडनीय।

ना-क़ाबिल-ए-शिकायत

जिसकी शिकायत न की जा सके।

ना-क़ाबिल-ए-फैसला

जिसका निर्णय न हो सके।

ना-क़ाबिल-ए-इंकार

जिससे इन्कार न किया जा सके

ना-क़ाबिल-ए-ए'तिबार

जिस पर विश्वास ना किया जा सके, अविश्वास्य

ना-क़ाबिल-ए-ज़ब्त

जो सहनीय न हो, जिसका सहन मुश्किल हो

ना-क़ाबिल-ए-नफ़रत

जो नफ़त के क़ाबिल न हो, जिससे घृणा न की जा सके, अघृण्य।।

ना-क़ाबिल-ए-शुमार

फा. अ. वि.—जो गिना न | जा सके।

ना-क़ाबिल-ए-इज़हार

जो कहा न जा सके।

ना-क़ाबिल-ए-हल

जो हल न हो सके, बहुत कठिन, अधिक मुश्किल

ना-क़ाबिल-ए-परवाज़

-जो उड़ न सके।

ना-क़ाबिल-ए-'अमल

जिस पर अमल न किया जा सके, जो व्यवहार में न आ सके, अव्यवहार्य, जो अमल में न लाया जा सके, जिस पर अमल न हो सके

ना-क़ाबिल-ए-दाद

जिसकी प्रशंसा न की जा सके, अप्रशंसनीय ।।

ना-क़ाबिल-ए-ज़वाल

जिसका कभी पतन न हो, जिसकी अवनति न हो सके।

ना-क़ाबिल-ए-तदबीर

जिसका इलाज न हो सके, असाध्य, जिसका कोई उपाय न हो।

ना-क़ाबिल-ए-'इलाज

जिसकी चिकित्सा न हो सके, दुःसाध्य, जिस का इलाज ना हो सके, लाइलाज

ना-क़ाबिल-ए-हिफ़ाज़त

जिसकी रक्षा न हो सके, जो रक्षा करने के योग्य न हो।

ना-क़ाबिल-ए-मुदावा

दे. ‘नाक़ाबिले मुआलजः ।।

ना-क़ाबिल-ए-तस्लीम

जिसे माना न जा सके।

ना-क़ाबिल-ए-इम्तिहान

जिसकी परीक्षा न हो सके, जो परीक्षा के अयोग्य हो।

ना-क़ाबिल-ए-शक

जिसमें किसी संदेह की गुंजाइश न हो, असंदिग्ध।

ना-क़ाबिल-ए-शिकस्त

जिसे हराया न जा सके, जिससे होड़ न की जा सके

ना-क़ाबिल-ए-इंतिख़ाब

जो चुनाव के अयोग्य हो, जो गद्य या पद्य उद्धरण के योग्य न हो

ना-क़ाबिल-ए-दस्तरस

जहाँ तक रसाई न हो सके, जहाँ तक हाथ न पहुँच सके।

ना-क़ाबिल-ए-पामाल

जो पांव तले मसला न जा सके।

ना-क़ाबिल-ए-शिफ़ा

फा. अ. वि.—वह रोगी जो अच्छा न हो सके, असाध्य ।

ना-क़ाबिल-ए-कुर्बानी

वह पशु जिसकी कुर्बानी जाइज़ न हो, वह व्यक्ति जिस पर कुर्बानी वाजिब न हो।

ना-क़ाबिल-ए-रह्म

जिस पर दया न की जा सके, जो दया का पात्र न हो।

ना-क़ाबिल-ए-तरक़्क़ी

जो तरक्की के योग्य न हो।

ना-क़ाबिल-ए-तस्दी'

जिसके लिए किसी दर्देसर अथवा खटखट की आवश्यकता न हो।

ना-क़ाबिल-ए-तग़य्युर

जिसमें परिवर्तन न हो सके।

ना-क़ाबिल-ए-शनाख़्त

जिसकी पहचान न हो सके, जो पहचाना न जा सके

ना-क़ाबिल-ए-एहतियात

जिसमें सावधानी की आवश्यकता न हो।

ना-क़ाबिल-ए-सुल्ह

दे. 'नाक़ाविले मुसालहत' ।।

ना-क़ाबिल-ए-मुक़ाबला

जिसका मुक़ाबला न किया जा सके।

ना-क़ाबिल-ए-इंतिज़ाम

जिसकी व्यवस्था न हो सके।

ना-क़ाबिल-ए-ख़रीद

जो मोल न लिया जा सके।

ना-क़ाबिल-ए-मलामत

जिसकी निदा न की जा सके, जो भर्त्सना के योग्य न हो।

ना-क़ाबिल-ए-तसख़ीर

जिसको पराजित करना असंभव हो, जिसे वशीभूत करना कठिन हो

ना-क़ाबिल-ए-आज़माइश

जिसकी परीक्षा न हो सके।

ना-क़ाबिल-ए-दुरुस्ती

जिसकी मरम्मत न हो सके, जिसका सुधार न हो सके।

ना-क़ाबिल-ए-पज़ीराई

जो क़बूल न किया जा सके।

ना-क़ाबिल-ए-'उज़्र

जिस पर उज्र या एतिराज़ न किया जा सके।

ना-क़ाबिल-ए-जिमा'

वह स्त्री जिससे सहवास न हो सके, बीमारी के कारण, छोटी अवस्था के कारण या धर्म-निषेध के कारण।।

ना-क़ाबिल-ए-इमदाद

जिसकी सहायता न हो सके।

ना-क़ाबिल-ए-ए'तिना

जो ध्यान देने के लाइक़ न हो, उपेक्ष्य, जो तवज्जोह के लाएक़ न हो, नज़र अंदाज किए जाने के लाएक़

हिन्दी, इंग्लिश और उर्दू में ना-क़ाबिल-ए-परस्तिश के अर्थदेखिए

ना-क़ाबिल-ए-परस्तिश

naa-qaabil-e-parastishنا قابِلِ پَرَسْتِش

ना-क़ाबिल-ए-परस्तिश के हिंदी अर्थ

फ़ारसी, अरबी - विशेषण

  • जो पूजने के योग्य न हो, जो पूजा न जा सके।

संदर्भग्रंथ सूची: रेख़्ता डिक्शनरी में उपयोग किये गये स्रोतों की सूची देखें .

सुझाव दीजिए (ना-क़ाबिल-ए-परस्तिश)

नाम

ई-मेल

प्रतिक्रिया

ना-क़ाबिल-ए-परस्तिश

चित्र अपलोड कीजिएअधिक जानिए

नाम

ई-मेल

प्रदर्शित नाम

चित्र संलग्न कीजिए

चित्र चुनिए
(format .png, .jpg, .jpeg & max size 4MB and upto 4 images)
बोलिए

Delete 44 saved words?

क्या आप वास्तव में इन प्रविष्टियों को हटा रहे हैं? इन्हें पुन: पूर्ववत् करना संभव नहीं होगा

Want to show word meaning

Do you really want to Show these meaning? This process cannot be undone