खोजे गए परिणाम

सहेजे गए शब्द

"क़रीना-ए-मजहूल" शब्द से संबंधित परिणाम

क़रीना-ए-मजहूल

मजहूल-ए-मुतलक़

बिलकुल अनजान, बेकार

ज़म्मा-ए-मजहूल

मिक़दार-ए-मजहूल

महर-ए-मजहूल-उल-जिंस

फ़े'ल-ए-मज़हूल

वह क्रिया जिसका कर्ता ज्ञात न हो, वो क्रिया जिस का फ़ाइल या कर्ता न हो

या-ए-मजहूल

वह ‘ये’ जो लंबी लिखी जाती है, और ‘ए’ की आवाज़ देती है, 'बड़ी य '

मजहूल-मरकज़ा

स'ई-ए-मजहूल

फ़त्हा-मजहूल

मजहूल-ख़ानदान

मर्द-ए-मजहूल

अप्रसिद्ध आदमी

विरासत-ए-मजहूल

क़ानून: वो संपत्ति जिसका उत्तराधिकारी मालूम न हो, लावारिस संपत्ति

मजहूल-उल-कैफ़

मजहूल-उल-हक़ीक़त

मजहूल-उल-फ़न

'अदद-ए-मजहूल

ता'रीफ़-उल-मजहूल

किसी अज्ञात चीज़ का परिचय अज्ञात चीज़ से, जैसे-कोई पूछे 'चुर्जक' किसे कहते हैं और उत्तर में कहा जाय ‘उल्मक़' को।

ता'रीफ़-उल-मजहूल बिल-मजहूल

किसी अज्ञात चीज़ का वर्णन उस चीज़ के माध्यम से करना जो स्वयं अज्ञात है, किसी नामालूम चीज़ को ऐसी चीज़ के ज़रीए बयान करना जो ख़ुद ग़ैर मालूम हो

मजहूल-क़ना'अत-पसंदी

असत्य या झूठी संतुष्टि

हमसरी-ए-अहल-ए-जहाँ

बा'इस-ए-आराम-ए-रग-ए-जाँ

ये

यह सब, सर्वनाम 'यह' का बहुवचन

ये

हिकमत-ए-ए-क़ौली

हुजूम-ए-राह-ए-रवाँ

जुर्म-ए-क़ाबिल-ए-फाँसी

ये देखिए

रूह-ए-'आलम-ए-इम्काँ

अमीन-ए-'आलम-ए-इम्काँ

बहार-ए-'आलम-ए-इम्काँ

बाराँ-ए-रहमत

मार-ए-सर-ए-गंज

वो साँप जो खज़ाने के केंद्र में बैठ कर उसकी पहरेदारी करता है, कंजूस, लोभी

नख़्ल-ए-जाँ

मानव शरीर

ख़म-ए-चौगाँ

वो लकड़ी जिस से चौगान खेलते हैं, चौगान का बल्‍ला

हसरत-ए-सामाँ

जिसके पास ले- देकर केवल निराशा ही निराशा हो।

हज्ब-ए-हिरमाँ

कू-ए-बुताँ

महबूब का घर या गली-कूचा

आराम-ए-जाँ

जिसे देख कर हृदय को सुख पहुँचे

आसेब-ए-जाँ

नोक-ए-सिनाँ

नेज़े की नोक

मुल्क-ए-सुलैमाँ

हज़रत सुलेमान का मुलक, आबाद और ख़ुशहाल इलाक़ा

नूर-ए-जाँ

जीवन का प्रकाश, अर्थात: सौंदर्य श्रेष्ठता

पीर-ए-आसमाँ

गू-ए-गिरेबाँ

गले में लगाने की घुडी ।

कू-ए-जानाँ

प्रेमिका की गली, माशूक़ की गली

रंग-ए-गुलसिताँ

बगीचे का रंग

सर-ए-जुनूँ

पागलपना

ख़त-ए-रैहाँ

इब्ने मुक़ल्ला जिन्होंने छह लिपि का आविष्कार किया, उनमें से एक लिपि का नाम जिसे 'ख़त-ए-गुलज़ार' भी कहा जाता है इस लिपि में अक्षरों के बीच बेल-बूटे बने होते हैं

रास-ए-मालाँ

आब-ए-गुलगूँ

रू-ए-कमाँ

संग-ए-कलाँ

कोई बहुमूल्य रत्न, क़ीमती जौहर।

बीमार-ए-जाँ

प्राणभय, जान को खतरा ।।

मौसम-ए-बाराँ

वरसात का मौसम, वर्षाकाल

मोनिस-ए-जाँ

हम दम

इम्साक-ए-बाराँ

जान-ए-जाँ

प्राणाधार, प्राणों का प्राण अर्थात् प्रेमिका, बहुत प्यारा माशूक़, ईश्वर

महकमा-ए-बहाली-ए-अराज़ी

आफ़ताब-ए-लब-ए-बाम

(लाक्षणिक) डूबता सूरज, ढलता सूर्य, वह वस्तु जो पतन के निकट हो

हिन्दी, इंग्लिश और उर्दू में क़रीना-ए-मजहूल के अर्थदेखिए

क़रीना-ए-मजहूल

qariina-e-maj.huulقَرِینَۂ مَجْہُول

قَرِینَۂ مَجْہُول کے اردو معانی

اسم، مذکر

  • (قواعد) جب فعلِ متعدی اپنے مفعول کی طرف نسبت کیا جاتا ہے تو اس کو قرینۂ مجہول کہتے ہیں.

सूचनार्थ: औपचारिक आरंभ से पूर्व यह रेख़्ता डिक्शनरी का बीटा वर्ज़न है। इस पर अंतिम रूप से काम जारी है। इसमें किसी भी विसंगति के संदर्भ में हमें dictionary@rekhta.org पर सूचित करें। या सुझाव दीजिए

संदर्भग्रंथ सूची: रेख़्ता डिक्शनरी में उपयोग किये गये स्रोतों की सूची देखें .

सुझाव दीजिए (क़रीना-ए-मजहूल)

नाम

ई-मेल

प्रतिक्रिया

क़रीना-ए-मजहूल

चित्र अपलोड कीजिएअधिक जानिए

नाम

ई-मेल

प्रदर्शित नाम

चित्र संलग्न कीजिए

चित्र चुनिए
(format .png, .jpg, .jpeg & max size 4MB and upto 4 images)

Delete 44 saved words?

क्या आप वास्तव में इन प्रविष्टियों को हटा रहे हैं? इन्हें पुन: पूर्ववत् करना संभव नहीं होगा