खोजे गए परिणाम

सहेजे गए शब्द

"जिस की लाठी पड़ी उसी के सर" शब्द से संबंधित परिणाम

जिस की लाठी पड़ी उसी के सर

जैसा किया वैसा भरा

जिस का खाए उसी की गाए

जिस से फ़ायदा हो उस की तारीफ़ और ख़ुशामद की जाये तो ये फ़िक़रा बोला जाता है

जिस का खाए उसी का गाए

जिससे कोई लाभ हो उसकी प्रशंसा की जाए और चापलूसी की जाए तब यह बोला जाता है

एक की टोपी एक के सर

जिस के लिए

ज़बर्दस्त की लाठी सर पर

ज़बरदस्त का सब कहा मानते हैं

ख़ुदा की लाठी

अंधे की लाठी

बुढ़ापे की लाठी

बुढ़ापे का सहारा, आख़िरी उम्र में हर तरह से देख भाल करने वाला

सर के ज़ोर

जिस के सर हथियार उस का क्या ए'तिबार

सींग वाले जानवर का कुछ भरोसा नहीं जब चाहे मार बैठे

दस पाँच की लाठी एक जने का बोझ

चंद लोग मिल कर ही मदद करें तो किसी का काम या ज़रूरत पूरी होजाती है

बंदर की बला तवेले के सर

किसी की ज़िम्मेदारी या मुसीबत दूसरे के सर पर आन पड़ने के अवसर पर प्रयुक्त

तवीले की बला बंदर के सर

क़सूर किसी का और मारा कोई जाये, मुसीबत किसी और की और सर पड़ी किसी दूसरे के (कहते हैं जिस तवीले में बंदर होता है वहां दूसरे चौपाए हर मुसीबत और बला से महफ़ूज़ रहते हैं और सारी बुलाया मुसीबत बंदर के सर आ पड़ती है

जिस की माँ जलेगी उस की जाई पहले जलेगी

माँ का असर औलाद पर ज़रूर होता है

लाठी बाँधना

हाथ में लाठी लेकर तैयार होना, लाठी से मसला होना

जिस की तेग़ उस की देग

माल-ओ-दौलत ज़बरदस्त के लिए है

सात पाँच की लाठी ऐक जने का बोझ

कई आदमीयों की मदद से काम पूओरा हो जाता है

दस की लाठी एक जने का बोझ

रुक : दस पाँच की लाठी एक जने का बोझ

मियाँ की जूती मियाँ का सर

मियाँ का जूता हो और मियाँ ही का सर, आदमी अपने हाथों के किए से लाचार है

लाठी-पोंगा

जिस के लिए चोरी की वही कहे है चोर

जिस की ख़ातिर बदनाम हुए वही नफ़रत करता है

जिसकी लाठी उस की भैंस

जिसके पास शक्ति होती है वही अधिकार प्राप्त करता है

सर की आफ़त टलना

आई हुई मुसीबत दूर होना, तकलीफ़ से निजात मिलना , फ़र्ज़ से सुबकदोशी हासिल होना

मेरे सर की क़सम

औरतें क़िस्म देते वक़्त कहती हैं

तुम्हारे सर की क़सम

सर की क़सम खाने का तरीक़ा (मिर्आतुल अरूस) मिज़ाजदार ने कहा तुम्हारे सर की क़सम चार ही आने को लिया है, यक़ीन मानो, सच्च है

सर की क़सम खाना

रुक : सर की क़सम देना

सर की बाज़ी लगाना

जान-निसार करना, जान दे देना, क़ुरबान होजाना

जिस का ख़ून उस की गर्दन पर

जो हत्या करता है वही सज़ा भुगतता है

जिस के काटे का मंतर नहीं

वो मसला जिस का हल ना हो, ऐसा असर जिस का असर ना होसके, ऐसी चीज़ जिस के बराबर कुछ नहू

पराए सर की बला लेना

जिस की तेग़ उस की देग़

रुक : जिस की तेग़ उस की इताअत बे दरेग़ , जिस की लाठी उस की भैंस

पाँव की ख़ाक सर पर आना

ज़लील-ओ-हक़ीर का शरीफ़ पर ग़लबा होना, जो हक़ीर-ओ-ज़लील हो इस का शरीफ़-ओ-आला पर ग़लबा पाना

जिस क़द्र

जिस-वक़्त

जिस समय, जिस दम, जब

गधे के सर से सींग

किसी चीज़ का सिरे से ख़त्म हो जाना, ऐसे ग़ायब होना कि कभी थे ही नहीं, बिल्कुल न होना की जगह प्रयुक्त

जिस की आँख नहीं उस की साख नहीं

जिस को तजुर्बा और हया नहीं उस की बात का एतबार नहीं

उस की लाठी बे आवाज़ है

जिस तरफ़ से

लाठी पोंगा करना

लड़ना, मारपीट, सर फुटो्वल करना

जिस चश्मे के पानी से प्यास बुझाना उसी में ज़हर मिलाना

जिस से फ़ायदा हासिल करे, उसी को नुक़्सान पहुंचाए तो कहते हैं

लाठी सब को हाँकना

अमीर ग़रीब या अदना आला में फ़र्क़ ना करना, सब से एक सा बरताओ करना

सब को एक ही लाठी से हाँकना

झरबेरी के काँटे की तरह लिपटना

पीछे पड़ जाना

सारे ज़माने की बला सर लेना

सब झगड़े अपने ज़-ए-मै लेना, अपनी एहमीयत जताना

सर तोड़ के लेना

सर चढ़ के मरना

किसी को अपने ख़ूओन का ज़िम्मादार बना के जान देना, अपना ख़ूओन किसी के सर थोपना या आइद करना

जिस डाली बैठें उसी की जड़ काटें

एहसान फ़रामोश, मुह्सिनकुश की निसबत बोलते हैं

आप की शिकायत सर आँखों पर

इस जगह मुस्तामल जहां कोई किसी बात की शिकायत करे या इल्ज़ाम लगाए और इस की शिकायत बा इल्ज़ाम क़बूल कर के उज़्र करना मंज़ूर हो

जिस ख़ुदा ने

ख़ुदा के हाथ की

जिस दरख़्त के साए में बैठे उसी की जड़ काटे

रुक : जिस डाली पर बैठें उसी की जड़ काटें

साँप मरे न लाठी टूटे

रफ़ा शर भी होजाए नुक़सान भी ना हो, काम भी होजाए और नुक़्सान भी ना हो

सर खोल के दु'आ माँगना

जिस का काम उसी को छाजे और करे तो ठेंगा बाजे

जो जिस काम को सीखता है वही कर सकता है, जिसने जो काम सीखा है वही उसे अच्छी तरह कर सकता है, दूसरे के बस का नहीं

जिस का खाए उस का गाए

बाँस के बाँस मल्लाही की मल्लाही

न साँप मरे न लाठी टूटे

ये आप के फ़रमाने की बात है

कोई ग़लत या नाजायज़ बात कहे तो बतौर तनबीहा कहते हैं

साँप के काटे की लहर आना

मारगज़ीदा का कभी कभी जुंबिश में आना

हिन्दी, इंग्लिश और उर्दू में जिस की लाठी पड़ी उसी के सर के अर्थ

जिस की लाठी पड़ी उसी के सर

jis kii laaThii pa.Dii usii ke sarجِس کی لاٹھی پَڑی اُسی کے سَر

सुझाव (जिस की लाठी पड़ी उसी के सर)

नाम

ई-मेल

प्रतिक्रिया

कहावत

जिस की लाठी पड़ी उसी के सर के हिंदी अर्थ

-  

  • जैसा किया वैसा भरा

جِس کی لاٹھی پَڑی اُسی کے سَر کے اردو معانی

-  

  • جیسا کیا ویسا بھرا

सूचनार्थ: औपचारिक आरंभ से पूर्व यह रेख़्ता डिक्शनरी का बीटा वर्ज़न है। इस पर अंतिम रूप से काम जारी है। इसमें किसी भी विसंगति के संदर्भ में हमें dictionary@rekhta.org पर सूचित करें।

Delete 44 saved words?

क्या आप वास्तव में इन प्रविष्टियों को हटा रहे हैं? इन्हें पुन: पूर्ववत् करना संभव नहीं होगा